e Kalyan Scholarship 2021 Verification News

e Kalyan Scholarship 2021 Verification News 
आवेदनों का नहीं हुआ सत्यापन,10 हजार छात्राओं की छात्रवृत्ति पर संकट
हर ग्रेजुएट छात्राओं को मिलना है ₹25000 स्कॉलरशिप
TMBU की गलती की वजह से करीब 10 हजार ग्रेजुएट छात्राओं को छात्रवृत्ति मिलने में परेशानी हो रही है। मुख्यमंत्री कन्या प्रोत्साहन योजना के तहत इन छात्राओं को ₹25000 की राशि मिलने वाली थी। लेकिन करीब 10 हजार छात्राओं का सत्यापन लॉक डाउन की वजह से नहीं हो पाया है। वहीं कई ऐसे मामले भी हैं जिनमें विश्वविद्यालय का दावा है कि सत्यापन किया गया है लेकिन मामला पेंडिंग दिखा रहा है। इन सबके बीच राशि नहीं मिलने पर छात्राएं विश्वविद्यालय का चक्कर लगा रही है। इनमें अधिकतर वोकेशनल कोर्स और एफिलिएटेड कॉलेज की छात्राएं हैं। छात्राओं को मिलने वाली छात्रवृत्ति TMBU दोबारा उनके परीक्षाफल सत्यापन के बाद ही जारी की जाती है। छात्रवृत्ति के लिए छात्राएं  ई-कल्याण वेबसाइट पर आवेदन की थी। इसमें परीक्षाफल से संबंधित सभी जानकारियां अपलोड करनी होती है। इसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से संबंधित विभाग छात्राओं की सभी जानकारी का सत्यापन करती है। सत्यापन के बाद छात्र-छात्राओं की राशि मिल पाती है। जिन छात्राओं का सत्यापन नहीं हुआ है वैसी छात्राओं का Status Panding दिखा रहा है। 
सरकार अब एफिलिएटेड कॉलेज की छात्राओं को भी देगी राशि
मार्च तक एफिलिएटेड कॉलेज की छात्राओं को राशि मिलने पर संकाय था। सरकार ने एफिलिएटेड कॉलेज की छात्राओं को छात्रवृत्ति की राशि देने पर विचार कर रही थी। दरअसल कई एफिलिएटेड कॉलेज में सीट से अधिक दाखिला के मामले सामने आए थे। ऐसे में सरकार ने कमेटी को इस मामले की जांच करने को कहा था। इसके बाद कमेटी ने छात्राओं को छात्रवृत्ति देने का निर्णय लिया था। इसके बाद सरकार ने विश्वविद्यालय को ई कल्याण से छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने वाली छात्राओं के आवेदन का सत्यापन तेजी से करने का निर्देश दिया था। 
वोकेशनल कोर्स व एफिलिएटेड कॉलेज कि अधिकतर छात्राओं का आवेदन पेंडिंग
ऑफलाइन आवेदन के लिए भी पहुंच रही है छात्राएं
छात्राओं के आवेदन का स्टेटस पेंडिंग दिखाने पर कई छात्राएं अब ऑफलाइन आवेदन करने पहुंच रही है। विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग में छात्राएं आवेदन दे रही है। हालांकि उन्हें यह जानकारी दी जा रही है कि केवल ऑनलाइन आवेदन ही स्वीकार किए जाएंगे। लॉकडाउन के कारण आवेदन सत्यापन की गति कम हुई है।
लॉकडाउन की वजह से हुई देरी
लॉक डाउन की वजह से सत्यापन की गति कम थी। लेकिन अब हर दिन आवेदन का सत्यापन कर दिया जा रहा है। कुछ वोकेशनल और एफिलिएटेड कॉलेज के मामले में राज्य सरकार के स्तर से पेंडिंग है। उसमें भी जो भी जानकारी मांगी जा रही है वह तुरंत राज्य सरकार को मुहैया कराई जा रही है।
Important Link
Application Status Check :- Click Here
Article Link :- Click Here
Official Website :- Click Here

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page