LIC Ka IPO Kaise Kharide – LIC का IPO आज से खरीदें, बाजार में इसकी उछाल सबसे ऊपर रहेगी

LIC का IPO आज से खरीदें, बाजार में इसकी उछाल सबसे ऊपर रहेगी

LIC Ka IPO Kaise Kharide : शेयर बाजार की हर गिरावट को थामने के लिए भारत सरकार जिस LIC पर भरोसा करती थी.उसी LIC का IPO आ रहा है और हर खास ओ आम के लिए मौका है कि वो अब इस कंपनी का मालिक, भागीदारी या शेयर होल्डर बन जाए जो इस देश की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी है नहीं,भरोसे का सबसे बड़ा प्रतीक भी है.

LIC का प्रतीक चिन्ह यानी लोगो है दो हाथ, तेज हवा से दिये को बचाने की मुद्रा में आसपास आधे बंधे और आधे खुले हुए दो हाथ, और उसके नीचे लिखा है- योगक्षेमं वहाम्यहम्!

यह जीवन बीमा निगम का सूत्र वाक्य है.हालांकि अब ज्यादा मशहूर टैग लाइन है – जिंदगी के साथ भी, जिंदगी के बाद भी, लेकिन आज भी LIC के लौगो के निचे आप यह पुराना सूत्र वाक्य लिखा पा सकते हैं. यह गीता के एक श्लोक का हिस्सा है.

गीता के रूप में योगेश्वर कृष्ण ने अर्जुन को जो उपदेश दिया उसके नवें अध्याय में से यह छोटा सा हिस्सा जिसने भी जिवन बीमा निगम के लिए चुना उसकी तारीफ करनी चाहिए. इसका अर्थ है कि मैं तुम्हारी पूरी कुशलता का जिम्मा लेता हूं यानी आपकी पूरी चिंता का बोझ मैं उठा लूंगा जो तुम्हारे पास है उसकी रक्षा करूंगा और जो नहीं है वो तुम्हें दिलवाऊंगा.

LIC Ka IPO Kaise Kharide - LIC का IPO आज से खरीदें, बाजार में इसकी उछाल सबसे ऊपर रहेगी
LIC Ka IPO Kaise Kharide – LIC का IPO आज से खरीदें, बाजार में इसकी उछाल सबसे ऊपर रहेगी

सबकी नजरें LIC IPO पर

LIC Ka IPO Kaise Kharide : भारत में करोड़ों लोग LIC पर ऐसा ही भरोसा करते आए हैं 1956 में देश में बीमा कारोबार का राष्ट्रीयकरण हुआ और लाइफ इंश्योरेंस यानी जिवन बीमा का पूरा कारोबार समेटकर LIC के हवाले किया गया. तब से ही भारत में जीवन बीमा का मतलब LIC ही रखा गया है. बहुत से लोग बोलचाल में कहते भी हैं कि LIC करवा लिया यानी जीवन बीमा करवा लिया.
लेकिन इस वक़्त LIC का मतलब शेयर बाजार और सरकार के लिए कुछ और है. और शेयर बाजार से जुड़े या जुरने की इच्छा रखने वाले लोगों के लिए भी फिर भले ही वो इन्वेस्टमेंट की जर्नी नई शुरू करने वाले हों या फिर बरसों से शेयर बाजार में जमे हुए पुराने खिलाड़ी.
सब इंतजार में हैं, देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी LIC यानी भारतीय जीवन बीमा निगम के IPO के और अब यह इंतजार खत्म हो रहा है हालांकि जितना इंतजार हुआ उसके मुकाबले फल उतना अच्छा नहीं है
एलआईसी देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी होने के साथ ही देश के सबसे बड़े जमींदारों में से भी एक है देश के हर बड़े छोटे शहर में इसके पास प्राइम प्रॉपर्टी है पैसा भी इतना है कि या शेयर बाजार को चढ़ाने और गिराने का दम रखती है
जेफ्रिज ने कुछ समय पहले एक रिसर्च नोट निकाला जिसके हिसाब से लिस्टिंग के बाद LIC की कुल हैसियत 261 अरब डॉलर के करीब हो सकती है सरकार कह चुकी थी कि वह इसका 5 से 10 परसेंट हिस्सा ही बेचने के लिए IPO ला सकती है.

LIC Ka IPO Kaise Kharide : क्या सस्ते में शेयर बेच रही है सरकार

LIC Ka IPO Kaise Kharide : सरकार इससे जितनी रकम जुटाना चाहती थी अब उससे आधे से कम पैसा ही उसे मिल पाएगा लेकिन इसका मतलब क्या यह नहीं है कि वह कंपनी के सियार सस्ते में बेच रही है और इसका मतलब यही हुआ कि या एक मौका है अच्छे से और सस्ते में पाने का?
 
एंकर इन्वेस्टरों के लिए एलआईसी का आईपीओ 2 मई को शुरू हो चुका है और जरूरत से दोगुना यानी लगभग 13हजार करोड रुपए तक की अर्जियां एंकर इन्वेस्टरों से आ चुकी है
 
बाकी बचे शेयरों में एलआईसी के पॉलिसी धारकों के लिए दो करोड़ 20 लाख शेयर और एलआईसी के कर्मचारियों के लिए 15 लाख शेयरों का कोटा अलग अलग रखा गया है
 
जबकि रिटेल निवेशकों के लिए कुल कोटा लगभग 6.91 करोड़ शेयरों का है पालिसीधारकों में जबर्दस्त उत्साह है और खबर है कि 6.48 करोड़ पालिसी धारकों ने अपनी पालिसी पैन कार्ड से जुड़वा ली है
 
अगर इनमें से आधे भी IPO में एक लाॅट यानी पंद्रह शेयरों के लिए एप्लिकेशन लगाते हैं तो 48 करोड़ से ज्यादा शेयरों ‌के लिए अजीऺ लग‌ चुकी होगी जबकि IPO का कुल आकार ही 22 करोड़ शेयरों से कुछ ऊपर का है.
 
इसके बावजूद बाजार में यह आशंका जताई जा रही है कि रीटेल में जितने लोग भी अजी॑ लगाएंगे उनको शेयर मिलने लगभग तय ही है इसका दूसरा मतलब यह है कि ऐसे में लिस्टिंग के वक़्त भाव बढ़ने की या तगड़ा फायदा होने की गुंजाइश लगभग नहीं है.
 
LIC Ka IPO Kaise Kharide : इसका अर्थ यह कतई नहीं है कि LIC का शेयर खरीदने लायक नहीं है बल्कि यह कि LIC के IPO में अर्जी लगाने से पहले सोच समझ कर फैसला करना जरूरी है ताकि अगर शेयर मिल जाए तो आपको पक्का पता हो कि आपको इनका करना क्या है और कितने समय इन्हें अपने पास ही रखना है.

26 अरब डॉलर के शेयर

10 परसेंट थी बिका तो वह 26 अरब डॉलर यानी करीब 1 लाख 92 हजार करोड़ रुपए का इशु होता है
 
हालांकि, यह बात साफ हो चुकी थी कि सरकार एक बार में एलआईसी का 5 परसेंट से ज्यादा हिस्सा नहीं बेच पाएगी 5 परसेंट का मतलब यह था कि सरकार एलआईसी के 31 करोड़ 72 हजार तक शेयर बाजार में बेचने के लिए उतारेगी.
 
इन शेयरों का भाव क्या रखा जाता है इससे तय होता है कि सरकार को इससे कितना पैसा मिलेगा.
 
लेकिन जब अनुमान लग रहे थे कि यह रकम 50000 करोड़ से एक लाख करो रुपए तक हो सकती है मगर अब यह सारे अनुमान बेमानी हो चुके हैं कंपनी का सिर्फ 3:30 परसेंट हिस्सा बिक्री के लिए आ रहा है और उससे भी सरकार कुल मिलाकर 20 हजार 500 करोड़ों रुपए से कुछ ऊपर रकम जुटाने की तैयारी में है
Read More
इस पोस्ट से संबंधित कोई और जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताइएगा ताकि आपका कोई भी समस्या हो तो कमेंट बॉक्स में आपको रिप्लाई दिया जा सके।

अगर आपको यह Post पसंद आया है तो इस आर्टिकल को अपने मित्रों में जरूर शेयर करें।
इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद्।

नीचे दिए गए सोशल मीडिया के आइकन पर क्लिक करके आप हमारे साथ जोड़ सकते हैं। जिस से आने वाली New Update की जानकारी आप तक पहुंच सकें।

STUDY EXAM 399 अब सोशल मीडिया पर उपलब्ध है 24×7 हमारे साथ जुड़े। हर खबर पर सबसे पहले Update !

Official Facebook Page Click Here
Official Facebook Group Click Here
Official Telegram Click Here
Official Channel Click Here
Official Instagram Click Here

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय स्नातक पार्ट 1 नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन यहां से करें | Patliputra University Part 1 Admission Online 2022 OFSS बिहार बोर्ड इंटर (11वीं) में नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू | OFSS Bihar Board Inter Admission Online Apply 2022-24 जवाहर नवोदय विद्यालय कक्षा 6 रिजल्ट (मेरिट लिस्ट और कटऑफ लिस्ट) देखने के लिए यहां क्लिक करें | Navodaya Class 6 Result 2022 Out पटना यूनिवर्सिटी में नए सत्र में नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन यहां से करें | patna university admission 2022 online apply भारतीय वायु सेना में 10वीं/ 12वीं/ स्नातक पास के लिए निकली बंपर भर्ती || Indian Air Force Recruitment 2022